चुनाव आयोग की वेबसाइट हैक करने का आरोपी सहारनपुर में गिरफ्तार

निर्वाचन आयोग ECI की वेबसाइट हैक करने के मामले में आरोपी युवक को दबोच लिया गया है। पकड़े जाने से पहले आरोपी शख्स ने 10 हजार से ज्यादा फर्जी मतदाता पहचान पत्र बना डाले थे। यूपी की सहारनपुर पुलिस ने युवक को गिरफ्तार किया गया है। सहारनपुर के एसएसपी एस चेनप्पा ने बताया कि आरोपी विपुल सैनी ने नकुड़ इलाके में अपनी कम्प्यूटर की दुकान से इस सनसनीखेज हैकिंग को अंजाम दिया।
आयोग के अफसरों का पासवर्ड भी किया हैक
पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी सैनी चुनाव आयोग की वेबसाइट में उसी पासवर्ड के जरिए लॉगइन करता था, जिसका इस्तेमाल आयोग के अधिकारी करते थे। आयोग को कुछ गड़बड़ी का अंदेशा हुआ और उसने जांच एजेंसियों को इसकी जानकारी दी। एजेंसियों की जांच के दौरान सैनी शक के दायरे में आया और उन्होंने सहारनपुर पुलिस को सैनी के बारे में जानकारी दी।
3 महीने में 10 हजार से ज्यादा वोटर आईडी बनाई
एसएसपी चेनप्पा ने बताया, ‘पूछताछ के दौरान सैनी के बताया कि वह मध्य प्रदेश के हरदा निवासी अरमान मलिक के इशारे पर काम कर रहा था और उसने तीन माह में दस हजार से ज्यादा मतदाता पहचान पत्र बना लिए थे। साइबर सेल और सहारनपुर अपराध शाखा के संयुक्त दल ने बृहस्पतिवार को सैनी को गिरफ्तार कर लिया।’
बैंक खाते में मिले 60 लाख रुपये
सहारनपुर एसएसपी ने बताया कि जांच में सैनी के बैंक खाते में 60 लाख रुपये पाए गए, जिसके बाद खाते से लेन-देन पर तत्काल रोक लगा दी गई है। उन्होंने कहा कि सैनी के खाते में इतनी रकम कहां से आई इसकी जांच की जाएगी।
आरोपी ने सहारनपुर से किया था बीसीए
पुलिस अधिकारी ने बताया कि पूछताछ में सैनी ने बताया कि एक पहचान पत्र के एवज में उसे 100 से 200 रुपये मिलते हैं। उसके घर से पुलिस ने दो कम्प्यूटर भी जब्त किए हैं। जांच एजेंसी उसे अदालत में पेश करके उसकी न्यायिक हिरासत की अपील करेगी। एसएसपी ने बताया कि सैनी के पिता किसान हैं। सैनी ने सहारनपुर जिले के एक कॉलेज से बीसीए किया है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *