एबीवीपी का Twitter अकाउंट सस्पेंड, मामले ने तूल पकड़, बाद में बहाल भी कर दिया

ABVP's Twitter Account Suspended , the matter has been captured, later restored
एबीवीपी का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड, मामले ने तूल पकड़, बाद में बहाल भी कर दिया

नई दिल्‍ली। Twitter India ने आज एबीवीपी का अकाउंट सस्पेंड कर दिए जाने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया, हालांकि बाद में बहाल भी कर दिया गया मगर आरएसएस के स्टुडेंट विंग अखिल भारतीय विद्दार्थी परिषद यानी एबीवीपी का ट्विटर अकाउंट अचानक सस्पेंड करने के मामले ने तूल पकड़ लिया है.

दक्षिणपंथी छात्र संगठन एबीवीपी @ABVPVoice के नाम से नेशनल ट्विटर हैंडल चलाता है जिसे गुरुवार शाम अचानक सस्पेंड कर दिया गया.
लेकिन, इस तरह का वाक्या केवल एबीवीपी के एक ट्विटर हैंडल के साथ नहीं हुआ है. एक ही साथ एबीवीपी के कई दूसरे पदाधिकारियों का ट्विटर अकाउंट भी सस्पेंड कर दिया गया.

एबीवीपी का दिल्ली का अकाउंट @ABVPDelhi को सस्पेंड करने के अलावा इस छात्र संगठन के नेशनल मीडिया कंवेनर साकेत बहुगुणा, नेशनल आफिस सेक्रेटरी राहुल शर्मा और जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के स्टुडेंट यूनियन के पूर्व ज्वाइंट सेक्रेटरी सौरभ शर्मा का ट्विटर अकाउंट भी गुरुवार शाम को सस्पेंड कर दिया गया.
हालांकि बाद में ट्विटर ने शुक्रवार सुबह इन सस्पेंड किए गए अकाउंट को फिर से बहाल भी कर दिया.

एबीवीपी के नेशनल मीडिया कंवेनर साकेत बहुगुणा ने इस मामले में सख्त प्रतिक्रिया देते हुए ट्विटर से इस बारे में बिना शर्त माफी मांगने की मांग की है.

एबीवीपी ने कहा जानबूझकर बनाया गया हमें निशाना

एबीवीपी का आरोप है कि संगठन और उससे जुड़े लोगों को जानबूझकर निशाना बनाया गया है, जिससे एबीवीपी की छवि भी खराब हो सकती है. ऐसा करने से अपने फॉलोअर के साथ संगठन का कम्युनिकेशन भी खराब हो सकता है.

साकेत बहुगुणा ने फ़र्स्टपोस्ट से बातचीत में आरोप लगाया कि अबतक ट्विटर ने एबीवीपी के संगठन के ट्विटर अकाउंट को वैरिफाइ तक नहीं किया है जबकि इसके लिए प्रयास भी किए जा चुके हैं. जबकि दूसरी तरफ, कई राष्ट्र विरोधी संगठनों और दूसरे संगठनों के ट्विटर अकाउंट को तुरंत वेरिफाई कर दिया जाता है.

संगठन और उससे जुड़े हुए पदाधिकारियों के ट्विटर अकाउंट के सस्पेंड करने के मामले को एबीवीपी ने बोलने की आजादी पर प्रहार बताया है.

हालाकि, ये मुद्दा केवल एबीवीपी से जुड़ा नहीं है. एबीवीपी के अलावा भी बीजेपी और उससे जुड़े दूसरे लोगों के साथ भी कुछ इसी तरह का वाक्या देखने को मिला है.
बिना नोटिस हुआ अकाउंट सस्पेंड

बीजेपी के वोलंटियर नवनीत शर्मा समेत कई दूसरे नेता भी अपने ट्विटर अकाउंट के सस्पेंड किए जाने से परेशान हैं. नवनीत शर्मा ने फ़र्स्टपोस्ट से बातचीत में बताया कि बिना किसी नोटिस के अचानक उन लोगों का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड कर दिया गया है.

बीजेपी के महाराष्ट्र के संगठन महामंत्री रवींद्र भुसारी का भी ट्विटर अकाउंट भी बिना किसी जानकारी के अचानक सस्पेंड हो गया.

अब इस मुद्दे को लेकर दक्षिण पंथी छात्र संगठन और उससे जुड़े लोगों की तरफ से ट्विटर पर दबाव बनाया जा रहा है लेकिन, अबतक इस मामले में ट्विटर की तरफ से कोई सफाई नहीं आई है. न ही किसी तरह की कोई माफी मांगी है.

लेकिन, बीजेपी के आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने ट्वीट कर जानकारी दी कि इस पूरे मामले में ट्विटर अधिकारियों से उन्होंने बात की. इसके बाद सबके सस्पेंड किए गए ट्विटर अकाउंट को फिर से बहाल कर दिया गया.

-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *