आत्मनिर्भर यूपी: PM ने कहा, 85 हजार लोगों का जीवन बचाने में कामयाब हुए सीएम योगी

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जमकर तारीफ की। आत्मनिर्भर यूपी कार्यक्रम की शुरुआत करने का बाद पीएम मोदी ने बताया कि किस तरह उत्तर प्रदेश ने कोरोना वायरस की लड़ाई में कई विकसित देशों को पछाड़ दिया है।
आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश कार्यक्रम की शुरुआत हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान योगी सरकार की जमकर तारीफ की। उन्होंने काह कि अगर आंकड़ों की तुलना करें तो पता चलता है कि यूपी ने कितनी बड़ी सिद्धि प्राप्त की है। यूरोप के चार बड़े देशों इंग्लैंड, इटली, फ्रांस और स्पेन को ही ले लें तो ये देश 200- 250 साल तक सुपर पावर थे। आज भी इनका दबदबा है। चारों देशों की कुल जनसंख्या जोड़ दें तो वे 24 करोड़ होगी और यूपी की जनसंख्या भी इतनी ही है। वहां कोरोना वायरस से 1 लाख 30 हजार मौत हुई, जबकि यूपी में मात्र 600 लोगों की मौत हुई।
अमेरिका का उदाहरण देते हुए मोदी बोले कि आज अमेरिका कोरोना से बुरी तरह प्रभावित है। वहां की आबादी 33 करोड़ है। वहां कोरोना से 1 लाख 35 हजार लोगों की मौत हुई। यूपी की 24 करोड़ जनसंख्या है। अगर योगी जी और उनकी टीम के लोगों ने सावधानी नहीं बरती होती तो आज यूपी में 600 नहीं बल्कि 85 हजार लोगों की कोरोना से मौत हो सकती थी।
…तो यूपी में कोरोना से अब तक होतीं 85000 मौतें
पीएम ने कहा कि योगी ने और यूपी के उनके सहयोगियों ने सही से तैयारी नहीं की होती तो अमेरिका की तरह ही यूपी में तबाही मची होती तो यहां 85 हजार लोगों की जान जाती। मेहनत जो यूपी की सरकार ने की है। कहा जा सकता है कि एक प्रकार से कम से कम 85 हजार लोगों का जीवन बचाने में कामयाब हुए हैं। दुनिया में कोरोना का इतना बड़ा संकट है। यूपी ने जो साहस, सूझबूझ दिखाई, कोरोना से मोर्चा लिया, यूपी को संभाला वह अभूतपूर्व है, प्रशंसनीय है। पूरी दुनिया के लिए यह मिसाल है।
‘सूझबूझ दिखाने वाले को मिलती है सफलता’
पीएम ने कहा, ‘मैं डबल इंजन की बात करता हूं। डबल इंजन आत्मनिर्भर भारत अभियान इसकी बहुत बड़ा उदाहरण है। जिस तरह आपदा को अवसर में बदला गया है, अन्य राज्यों को भी यूपी से सीखना चाहिए। संकट के समय जो साहस और सूझबूझ दिखाता है सफलता उसी को मिलती है।’
‘यूपी पर गर्व होना चाहिए’
विकसित देशों ने जितने भी प्रयास किए, असफल हुए। कई गुना ज्यादा लोग मरे। संसाधन हैं विकसित देश है। वहां की सरकारों को चिंता थी फिर भी अपनी नागरिकों को बचाने में सफलता नहीं मिली, जो उत्तर प्रदेश ने हासिल की। हर यूपी वाले को गर्व होना चाहिए।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *