क‍िम की सेहत को लेकर अटकलों का दौर जारी, अब एक नया दावा सामने आया

सोल। उत्‍तर कोरियाई तानाशाह क‍िम जोंग उन की सेहत को लेकर अब एक और दावा सामने आया है। उत्‍तर कोरियाई के एक प्रमुख व‍िद्रोही ने कहा है क‍ि क‍िम जोंग इतने बीमार हैं क‍ि वह अपने पैरों पर खड़े नहीं हो पा रहे हैं।
दरअसल, उत्‍तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन के स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर अटकलों का दौर अभी भी जारी है। ताजा दावे में उत्‍तर कोरिया के प्रमुख विद्रोही ने कहा है कि तानाशाह किम जोंग उन की हालत बेहद नाजुक है और वह अपने पैरों पर खड़े भी नहीं हो पा रहे हैं। इससे पहले आई खबरों में कहा गया था कि किम जोंग उन कोमा में चले गए हैं। कुछ खबरों में तो यहां तक दावा किया गया कि किम जोंग उन की मौत हो गई है।
उत्‍तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग के स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर किए जा रहे किसी भी दावे की पुष्टि करना अपने आप में असंभव है। इसकी वजह यह है कि उत्‍तर कोरिया ने खुद को दुनिया से अलग रखा हुआ है और वहां हर चीज गोपनीय रखी जाती है। उत्‍तर कोरियाई समाचार पत्रों ने किम जोंग उन की 11 अप्रैल को ली गई तस्‍वीर के अलावा और कोई तस्‍वीर नहीं छापी है। उन्‍होंने यह भी नहीं बताया है कि किम जोंग उन बीमार हैं या नहीं।
‘खुद से चल नहीं पा रहे हैं किम जोंग उन’
इस बीच सीएनएन को दिए एक इंटरव्‍यू में पूर्व उत्‍तर कोरियाई राजनयिक थाई योंग हो ने कहा है कि किम अपनी खराब सेहत से जूझ रहे हैं। दक्षिण कोरिया में सांसद बन चुके थाई योंग हो ने कहा कि ‘मुझे इसका पूरा व‍िश्‍वास नहीं है कि किम जोंग उन की वास्‍तव में कोई सर्जरी हुई है या नहीं, लेकिन एक चीज स्‍पष्‍ट है कि….वह खुद से खड़े नहीं हो पा रहे हैं या चल नहीं पा रहे हैं।’
थाई ने कहा कि किम जोंग की सही हालत कैसी है, इसके बारे में केवल कुछ ही लोगों को सही पता है। इससे पहले सीएनएन ने अपनी खबर में था कि सर्जरी के बाद किम जोंग उन जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं। उत्‍तर कोरियाई विद्रोहियों के वेबसाइट डेली एनके ने कहा कि 12 अप्रैल को किम जोंग उन के हार्ट की सर्जरी हुई है।
सूत्रों के मुताबिक इस ऑपरेशन के बाद किम की हालत स्थिर है और वह अपने विला में आराम कर रहे हैं। डॉक्‍टरों की एक टीम लगातार उनकी निगरानी कर रही है।
‘मिसाइल टेस्‍ट के दौरान घायल हुए किम’
इससे पहले एक अन्‍य उत्‍तर कोरियाई विद्रोही ने दावा किया था कि तानाशाह किम जोंग उन मिसाइल टेस्‍ट के दौरान घायल हो गए थे और इसी वजह से वह दिखाई नहीं दे रहे हैं। किम जोंग उन की वर्कस पार्टी के एक अधिकारी ली जिओंग हो ने एक दक्षिण कोरिया के समाचार पत्र में लिखा कि किम जोंग उन 14 अप्रैल तक स्‍वस्‍थ थे और उन्‍होंने मिसाइल टेस्‍ट का आदेश दिया था।
उन्‍होंने कहा कि संभवत: इसी दौरान वह घायल हो गए और इसी वजह से दिखाई नहीं दे रहे हैं। हो ने कहा, ‘ऐसी खबरें आई हैं कि किम मिसाइल टेस्‍ट के दौरान मौजूद नहीं थे लेकिन मिसाइल टेस्‍ट और लड़ाकू विमान की ट्रेनिंग का कोई फुटेज नहीं जारी किया गया है। इससे ऐसा लग रहा है कि मिसाइल के मलबे या आग से किम के साथ कोई दुर्घटना हुई है।’
प्‍योंगयांग में लोगों ने घबराहट में आकर खरीदारी की
हो ने उन दावों को भी खार‍िज कर दिया जिसमें कहा जा रहा था कि किम जोंग उन ब्रेन डेड हो गए हैं। वाशिंगटन पोस्‍ट की रिपोर्ट के मुताबिक किम के मरने की खबर आने के बाद उत्‍तर कोरिया की राजधानी प्‍योंगयांग में लोगों ने घबराहट में आकर खरीदारी शुरू कर दी। लोगों ने चावल, शराब, सिगरेट, मछली आदि खरीदना शुरू कर दिया। यही नहीं, राजधानी में हेलिकॉप्‍टर बहुत नीची उड़ान भरते देखे गए हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *