एक ऐसी फुटबॉल, जो हॉस्‍पिटल में भी राष्‍ट्रपति ट्रंप के साथ है

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को कोरोना इन्फेक्शन का पता चलने के बाद वॉल्टर रीड नेशनल मेडिकल सेंटर ले जाया गया। इस दौरान उनके साथ एक ऐसी चीज देखी गई जिस पर सभी की निगाहें टिक गई हैं। डोनाल्ड ट्रंप अपने साथ ‘न्यूक्लियर फुटबॉल’ लेकर गए हैं जो पूरी दुनिया को मिनटों में तबाह कर सकती है। जब उन्हें व्‍हाइट हाउस से मरीन वन पर वॉल्टर रीड ले जाया गया था, तभी ये फुटबॉल उनके साथ थी। ट्रंप का कोरोना इन्फेक्शन भी इसे उनसे अलग नहीं कर सका और प्रोटोकॉल का पालन किया गया।
ट्रंप के साथ गया है सूटकेस
ये केस अमेरिका के राष्ट्रपति के साथ हर वक्त रहता है। इसे Presidential Emergency Satchel कहते हैं। उनके साथ एक साथी भी होता है जो जरूरत पड़ने पर फौरन परमाणु हमला करने के लिए तैयार रहे। राष्ट्रपति वॉल्टर रीड में प्रेसिडेंशल स्वीट में हैं जो सुरक्षा और संपर्क उपकरणों से लैस है। जब भी कोई अमेरिकी राष्ट्रपति व्‍हाइट हाउस से बाहर गया है ये फुटबॉल उनके साथ रही है।
क्यों बनाया गया ‘फुटबॉल’?
साल 1962 में क्यूबन मिसाइल संकट के बाद जब तत्कालीन राष्ट्रपति जॉन एफ केनेडी को खतरा महसूस हुआ, उसके बाद से यह फुटबॉल राष्ट्रपति के साथ बरकरार है। इसे इसका नाम Eisenhower वक्त के परमाणु युद्ध प्लान ‘Dropkick’ से मिला था। इसका मकसद था राष्ट्रपति को हर वक्त परमाणु जंग के लिए तैयार रखना। ऐसे कुल 3 बैग हैं। एक राष्ट्रपति, एक उपराष्ट्रपति के पास और एक व्‍हाइट हाउस के अंदर। इन्हें देखने वाले ऑफिसर्स के पास Beretta पिस्तौल होती ताकि वे इसकी और अपनी रक्षा कर सकें।
फुटबॉल के अंदर क्या?
इस बारे में ज्यादा जानकारी सार्वजनिक नहीं है और वह हमेशा बदलती भी रहती है। हालांकि, केस के बाहर एक ऐंटीना दिखता है जिससे लगता है कि इसमें सैटलाइट फोन होता है। ऐसी एक 75 पन्ने की किताब भी है जिसमें राष्ट्रपति के लिए परमाणु हमले का विकल्प दिया होता है। जंग की स्थिति में राष्ट्रपति को कहां छिपना है, इस बारे में भी बताया गया है। एक लैमिनेट किए हुए कार्ड ‘Biscuit’ के पास मिलिट्री के लीडर्स और ब्रॉडकास्टर्स के कॉन्टैक्ट डीटेल्स भी होते हैं। यह एक क्रेडिट कार्ड जैसा लगता है जिस पर लेटर्स और नंबर लिखे होते हैं।
खो भी चुका है ‘फुटबॉल’
परमाणु हमले की स्थिति में अमेरिकी सेना के कमांडर-इन-चीफ फोन पर नेशनल मिलिट्री कमांड सेंटर को कोड बताते हैं। बैग तो व्‍हाइट हाउस में रहता है लेकिन माना जाता है कि उनके साथ लॉन्च कोड का कार्ड हमेशा रहता है। दिलचस्प बात यह है कि साल 1975 में जेराल्ड फोर्ड के कार्यकाल के दौरान फुटबॉल एयर फोर्स वन पर छूट गई थी। वहीं, जिमी कार्टर को 1977 में दिखाया जा रहा था कि यह काम कैसे करता है लेकिन उनके साथ मजाक कर दिया गया जब खाली बैग में बीयर का खाली कैन और कॉन्डम रख दिया गया। एक बार कोड सूट में रह गया जो ड्राई क्लीनर के पास पहुंच गया।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *