Gyanadeep शिक्षा भारती में मनाया 72वां स्वतंत्रता दिवस

मथुरा। गोवर्धन रोड स्थित Gyanadeep शिक्षा भारती में 72वें स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम का षुभारंभ मुख्य अतिथि ब्रज रत्न वन्दना श्री तथा 3 वर्षीय बालकद्वारा संयुक्त रूप से ध्वजारोहण द्वारा किया गया।

सभागार में वीणा वादिनी वरदे सरस्वती वन्दना, स्वागत गान, षिव – तांडव नृत्य, जय हो सामूहिक नृत्य, सावन – गीत ‘‘बाबा जी के बाग में‘‘ आदि की प्रस्तुति दी गई। निर्देशन श्रीमती भावना शर्मा एवं श्रीमती दीपाली वर्मा द्वारा किया गया।

Gyanadeep के संस्थापक सचिव ‘पद्मश्री‘ मोहन स्वरूप भाटिया ने वृक्षारोपण, बिजली बचाओ, पानी के दुरुपयोग को रोकने एवं स्वच्छता के प्रति छात्र-छात्राओं को संकल्पित किया।

मुख्य अतिथि ब्रज रत्न वन्दना श्री ने अपने सम्बोधन में स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ प्रदान करते हुए कहा कि स्वतंत्रता प्राप्ति के लिए जो प्रयास किये गए थे उससे भी अधिक प्रयास स्वतंत्रता को बनाये रखने के लिए करने की आवष्यकता है।

इस अवसर पर कन्हैया लाल धार्मिक ट्रस्ट के धनेष कुमार मित्तल द्वारा मेधावी छात्र – छात्रा सृश्टि गर्ग एवं मोहित सिंह को पुरुस्कृत किया गया। उन्होंने अपने सम्बोधन में अंग्रेजों के समय भारतीयों के प्रति शिक्षा के दृष्‍टिकोण को वर्णित करते हुए कहा कि अंग्रेज नहीं चाहते थे कि भारतीय सुशिक्षित हों। अंग्रेजों ने अपने समय में उच्च पदों पर कभी भी भारतीयों को आसीन नहीं होने दिया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए संस्कार भारती के प्रान्तीय संरक्षक पंडित गजेन्द्र षर्मा ने कहा कि आज शिक्षा के नैतिक मूल्यों पर आधारित होने की अत्यन्त आवश्‍यकता है।

कार्यक्रम का संचालन श्रीमती नेहा चावला, संदीप कुलश्रेश्ठ एवं भावना शर्मा ने संयुक्त रूप से किया। कार्यक्रम के अन्त में संस्था की प्रधानाचार्या श्रीमती प्रीति भाटिया ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »