यूपी में स्वास्थ्य विभाग को दिए 50 करोड़ रु., पान मसाले की बिक्री बैन

लखनऊ। लॉकडाउन के 21 दिन की समयावधि में थूक से कोरोना संक्रमण फैलने के खतरे के चलते यूपी सरकार ने प्रदेश में पान मसाला की बिक्री पर रोक लगा दी है वहीं स्वास्थ्य विभाग को हो रही दिक्कतों को देखते हुए योगी सरकार ने 50 करोड़ रुपये की मदद देने के लिए घोषणा की है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि किसी को खाद्यान्न और जरूरी सामान की कमी नहीं होने दी जाएगी

दूध, सब्जी और जरूरी चीजें लोगों के दरवाजों तक पहुंचाई जाएंगी। उन्होंने सभी डीएम को निर्देश दिए हैं कि वे पुलिस आयुक्त, एसएसपी और एसपी से समन्यव कर ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों को डोर-स्टेप व्यवस्था की पूरी जानकारी उपलब्ध कराएं। सीएम ने सभी जिलों के कंट्रोल रूम में आवश्यक खाद्य सामग्री की आपूर्ति के लिए मंडी, दुग्ध, कृषि, उद्यान, पशुपालन व खाद्य आपूर्ति के कुशल अधिकारियों की स्थानीय स्तर पर ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए हैं। कंट्रोल रूम का नंबर आम लोगों में प्रचारित करने के भी निर्देश दिए गए हैं।

खाद्य सामग्री की आपूर्ति व उसकी आवक पर निगरानी रखी जाएगी

कोरोना वायरस के चलते पूरे देश में लागू 21 दिनों के लॉकडाउन से जरूरी सामनों के लिए अफरातफरी न मचे इसके लिए सरकार ने कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। सरकार की ओर से जो व्यवस्थाएं की गई हैं उसमें मंडी परिषद और मंडी समितियों द्वारा अन्य राज्यों एवं केंद्र सरकार के समन्वय से जो खाद्य सामग्री की आपूर्ति होती है, उसकी आवक पर निगरानी रखी जाएगी।

उत्पादन एवं विपणन एसोसिएशन के माध्यम से जिलों मे आवश्यक खाद्य सामग्री सप्लाई चेन में इनका उपयोग किया जाएगा। होम डिलेवरी करने वाले होटल, रेस्टोरेंट और डिब्बा फूड को बढ़ावा दिया जाएगा, लेकिन इस बात का विशेष ध्यान रखा जाएगा कि इन जगहों पर आम लोग इकट्ठा न होने पाएं। इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

दरअसल, प्रधानमंत्री की घोषणा के तत्काल बाद विभिन्न शहरों में जरूरत के सामानों की खरीदारी के लिए भीड़ उमड़ पड़ी। इससे कई शहरों में अफरातफरी मच गई इसका फायदा उठाते हुए दुकानदारों ने भी दो से तीन गुना दामों में सामान बेच डाले।

अपर मुख्य सच‍िव गृह व सूचना अवनीश अवस्थी ने आज बताया क‍ि इस संबंध में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन, उत्तर प्रदेश ने आदेश जारी कर दिये गए हैं जो पब्लिक डोमेन में उपलब्ध करा दिए जाएंगे।

विभाग ने जारी किए गए आदेश में कहा कि कोविड-19 महामारी का संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है जिसकी रोकथाम के लिए पूरे प्रदेश में 25 मार्च से ही लॉकडाउन घोषित किया गया है।

पान मसाला खाकर थूकने और उसके पाउच का उपयोग करने पर संक्रमण फैलने के खतरे को देखते हुए पान मसाला के निर्माण, भंडारण, वितरण और विक्रय पर रोक लगाई गई है।

-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »