CRPF के 40 जवान शहीद हो गए, मुझे इसमें भी शक है: फारूक अब्दुल्ला

श्रीनगर। नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) के नेता फारूक अब्दुल्ला ने पुलवामा आतंकी हमला और ‘शक्ति मिशन को लेकर केंद्र की मोदी सरकार के दावों पर सवाल उठाए हैं।
छत्तीसगढ़ के शहीद जवानों का जिक्र करते हुए फारूक ने कहा कि उन्हें पुलवामा में 40 जवानों के शहीद होने पर भी उन्हें शक है। फारूक ने शक्ति मिशन को लेकर भी पीएम मोदी को घेरा और कहा कि वास्तव में इसका श्रेय पूर्व पीएम मनमोहन सिंह को जाना चाहिए।
बता दें कि पिछले दिनों पुलवामा में आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद भारतीय सेना ने बालाकोट में एयर स्ट्राइक कर इसका बदला लिया था। हालांकि विपक्ष के कई नेताओं ने इस एयर स्ट्राइक पर शक जताया था। अब फारूक ने शहीद जवानों की संख्या पर भी शक जताया है।
’40 जवान शहीद हुए, शक है’
एक कार्यक्रम में फारूक ने कहा, ‘छत्तीसगढ़ में हिंदुस्तान के कितने जवान शहीद हुए? क्या मोदीजी कभी उन पर फूल चढ़ाने गए? मगर वे 40 लोग CRPF के शहीद हो गए, मुझे उसका भी शक है।’
‘शक्ति मिशन का श्रेय मनमोहन सिंह को’
शक्ति मिशन को लेकर पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए फारूक ने कहा, वह मिसाइल जो उसने सैटलाइट को मारने के लिए छोड़ा था, वह मनमोहन सिंह ने तैयार किया था। पर चुनाव में दिखाने के लिए हनुमान जी तशरीफ लाए हैं, उसने बटन दबाया। एक बटन गलत दब गया और हेलिकॉप्टर गिर गया और हमारे छह जवान भी शहीद हो गए।
हेलिकॉप्टर क्रैश में 7 लोग मरे थे
बता दें कि पिछले दिनों जम्मू-कश्मीर के बडगाम में भारतीय वायुसेना का MI-17 हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया था। इस हादसे में दो पायलट, चार जवानों और एक आम नागरिक की मौत हो गई थी। उधर, यह भी बात सामने आई थी कि वायुसेना का हेलिकॉप्टर क्रैश होने से पहले भारत की ओर से एक मिसाइल दागी गई थी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »