नारदा स्टिंग मामले में TMC के 2 मंत्रियों सहित 4 नेता गिरफ्तार

कोलकाता। नारदा स्टिंग मामले की जाँच कर रही CBI ने सोमवार सुबह तृणमूल कांग्रेस TMC के 3 नेताओं समेत 4 लोगों को गिरफ़्तार कर लिया. इनमें दो मंत्री भी शामिल हैं.
इन सभी को उनके घर से निजाम पैलेस स्थित सीबीआई दफ़्तर ले आया गया और वहाँ उनकी गिरफ़्तारी की गई.
इन नेताओं में दो मंत्रियों फिरहाद हकीम और सुब्रत मुखर्जी के अलावा पूर्व मंत्री और अब बीजेपी नेता शोभन चटर्जी और टीएमसी विधायक मदन मंत्री भी शामिल हैं.
राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने हाल ही में सीबीआई को इन नेताओं के ख़िलाफ़ चार्जशीट दायर करने की अनुमति दी थी.
टीएमसी ने गिरफ़्तारियों को बताया ग़ैरकानूनी
नेताओं की गिरफ़्तारी की सूचना मिलते ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी सीबीआई के दफ़्तर पहुँच गई हैं.
सत्ताधारी टीएमसी ने इन गिरफ़्तारियों को ग़ैररकानूनी बताया है. पार्टी के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि बिना किसी नोटिस के नेताओं की गिरफ़्तारी ग़ैरकानूनी है.
उन्होंने पूछा, “इसी मामले में अभियुक्त बीजेपी नेता मुकुल रॉय और शुभेंदु अधिकारी को गिरफ़्तार क्यों नहीं किया गया?”
विधानसभा अध्यक्ष विमान बनर्जी ने भी गिरफ़्तारियों को अवैध बताते हुए कहा है कि उनसे इसकी अनुमति नहीं ली गई है.
बनर्जी ने कहा कि राज्यपाल को इन नेताओं की गिरफ़्तारी को हरी झंडी देने का अधिकार नहीं है.
तृणमूल कांग्रेस के तीन नेताओं समेत चार लोगों को गिरफ़्तारी के बाद बड़ी संख्या में पार्टी समर्थक सीबीआई ऑफ़िस के बाहर जमा होकर प्रदर्शन कर रहे हैं.
-BBC

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *