जवाहर यादव हत्याकांड में करवरिया सहित 4 को उम्रकैद की सजा

प्रयागराज। प्रयागराज के चर्चित जवाहर यादव हत्याकांड में अदालत ने बीजेपी विधायक नीलम करवरिया के पति उदयभान करवरिया समेत 4 लोगों को उम्रकैद की सजा सुनाई है।
इस मामले में अदालत ने 18 अक्टूबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था, जिसके बाद 4 नवंबर को फैसला सुनाने की बात कही गई थी।
सोमवार को इस केस का फैसला देते हुए प्रयागराज की एडीजे कोर्ट ने सभी आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई। इसके अलावा कोर्ट ने सभी आरोपियों पर 7 लाख 20 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है।
एसपी नेता जवाहर यादव हत्याकांड में 31 अक्टूबर को बीजेपी विधायक नीलम करवरिया के पति उदयभान, फूलपुर के पूर्व बीएसपी सांसद कपिलमुनि और पूर्व एमएलसी सूरजभान को कोर्ट ने इस मामले में दोषी पाया था और 4 नवंबर को फैसला देने के लिए कहा था। पूर्व में प्रयागराज के अतिरिक्त जिला जज ने बहस पूरी होने के बाद 18 अक्टूबर को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था।
13 अगस्त 1996 को हुई थी हत्या
बता दें कि 13 अगस्त 1996 को समाजवादी पार्टी के नेता और विधायक जवाहर यादव की जिले के सिविल लाइंस इलाके में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। 13 अगस्त को शाम 7 बजे सिविल लाइंस में पैलेस सिनेमा और कॉफी हाउस के बीच जवाहर यादव को एके-47 राइफल से गोली मारी गई थी। इस वारदात के बाद दर्ज मुकदमे में कपिल मुनि करवरिया, उदय भान करवरिया, सूरज भान करवरिया और रामचंद्र त्रिपाठी को आरोपी बनाया गया था।
बचाव पक्ष ने 156 गवाहों के बयान दर्ज कराए
इस मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट में अभियोजन की ओर से 18 गवाहों के बयान कराए गए थे। इसके अलावा करवरिया बंधुओं को निर्दोष साबित करने के लिए बचाव पक्ष की ओर से 156 गवाहों को कोर्ट में पेश किया गया था। 23 साल तक चली सुनवाई के बाद कोर्ट ने 18 अक्टूबर 2019 को अपना फैसला सुरक्षित कर लिया था।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *