पश्चिमी यूपी में खुलेआम बिक रहा है .32 bore का कट्टा

.32 bore का कट्टा बुलंदशहर, एटा, इटावा, मैनपुरी, बुलंदशहर, कानुपर में सबसे प्रचलित स्थानीय हथियार है जिसकी कीमत बाजार में 25 से 40 हजार रुपये तक होती है

लखनऊ/बुलंदशहर। बुलंदशहर के स्‍याना में बलवे के दौरान मारे गए पुलिस इंस्‍पेक्‍टर सुबोध कुमार सिंह व एक अन्‍य युवक सुमित की मौत के बाद .32 का कट्टा सुर्खियों में आ गया है। बताया जाता है कि .32 कैलिबर की गोली की पुष्‍टि हो चुकी है।

जहां लाइसेंसी .32 बोर पिस्टल आर्म्स फैक्ट्री में बनती है और भारत सरकार द्वारा पंजीकृत है, वहीं .32 bore का कट्टा अवैध रूप से अपना बाजार फैलाता जा रहा है और पश्चिमी यूपी में खुलेआम बिक रहा है।

.32 bore का कट्टा बुलंदशहर, एटा, इटावा, मैनपुरी, बुलंदशहर, कानुपर, में सबसे प्रचलित स्थानीय हथियार है। इसकी कीमत बाजार में 25 से चालीस हजार रुपये तक होती है। वहीं जबकि आर्म्स फैक्ट्री से निर्मित लाइसेंसी पिस्टल या रिवाल्वर की कीमत एक लाख रुपये से अधिक की होती है।

पाकिस्तान निर्मित .32 की स्टारमेड नामक कट्टे की डिमांड बढ़ी

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि .32 बोर का तमंचा बहुत प्रचलित है, इसे स्थानीय कारीगर आसानी से बना लेते हैं और मेड इन यूएसए लिखकर बेचते हैं। इसकी फैक्ट्रियां कई जगहों पर चलती है। हाल के दिनों में .32 की स्टारमेड नामक कट्टे की डिमांड बढ़ी है। यह पाकिस्तान निर्मित कट्टा होता है जो नेपाल के रास्ते भारत में सप्लाई की जाती है। बाजार में नकली .32 बोर की रिवाल्वर व पिस्टल भी मिलने की बात आ रही है।

प्राप्‍त जानकारी के अनुसार इंस्पेक्टर व युवक की मौत .32 बोर के हथियार से हुई है। यह हथियार किसी का लाइसेंसी हैं या नकली, इसका अभी पता नहीं चल पाया है। बात यह भी चली कि इंस्पेक्टर के पास भी निजी लाइसेंस रिवाल्वर थी। वह घटना के बाद से ही गायब है। किस हथियार से गोली चली, इसका खुलासा तभी होगा जब हथियार मिलने के बाद उसकी जांच होगी।

आम नागरिकों  में प्रचलित है .32 बोर 
जानकार बताते हैं कि पुलिस के पास .38 बोर के हथियार होते हैं। आम लोगों के लिए यह हथियार प्रतिबंधित होता है। जो लोग लाइसेंस बनवाते हैं, उन्हें .32 बोर की पिस्टल या रिवाल्वर ले सकते हैं। पिस्टल कोलकाता की आर्डिनेंस फैक्टरी जबकि रिवाल्वर कानपुर की आर्डिनेंस फैक्टरी में बनती है। इसके अलावा जिनके पास आर्म्स दुकान का लाइसेंस होता है, वहां से भी खरीदा जा सकता है।

-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *