TMC के 3 विधायक और कई पार्षद BJP में तलाश रहे ठिकाना

नई दिल्‍ली। लोकसभा चुनाव के बाद TMC के 3 विधायक और कई पार्षदों ने बीजेपी में शामिल होने की इच्‍छा जताई है। ऐसी खबरें आ रही हैं कि जल्‍द ही TMC केे 3 विधायक और लगभग 20 पार्षद बीजेपी का दामन थाम सकते हैं। ममता बनर्जी के काफी करीबी रहे और अब बीजेपी नेता मुकुल रॉय के नेतृत्व में बीजेपी टीएमसी के नेताओं के अपने पाले में खड़ा करने की कोशिश कर रही है।

मुकुल रॉय के बेटे शुभ्रांसु रॉय समेत टीएमसी के 3 विधायक दिल्ली दिल्ली में बीजेपी की सदस्यता ले सकते हैं। शुभ्रांसु के अलावा नोआपारा से विधायक सुनील सिंह और बैरकपुर के विधायक शीलभद्र दत्ता के भी मुकुल रॉय के साथ दिल्ली आने की खबर है। रॉय खुद 2017 में बीजेपी में शामिल हुए थे। मुकुल रॉय के बेटे शुभ्रांशु को टीएमसी पार्टीविरोधी गतिविधियों के आरोप में पहले ही सस्पेंड कर चुकी है। तीनों विधायकों के अलावा टीएमसी के कई पार्षद भी बीजेपी का दामन थाम सकते हैं। खास बात यह है कि तीनों विधायक बैरकपुर लोकसभा सीट के तहत आने वाले विधानसभा क्षेत्रों की नुमांदगी करते हैं। बैरकपुर में बीजेपी के अर्जुन सिंह ने टीएमसी के कद्दावर नेता और 2 बार के सांसद रहे दिनेश त्रिवेदी को शिकस्त दी है। बिजपुर से विधायक सुनील सिंह अर्जुन सिंह के रिश्तेदार हैं।

दिल्ली पहुंचे टीएमसी के 20 पार्षद
टीएमसी के कुछ पार्षद दिल्ली पहुंच चुके हैं, जो बीजेपी की सदस्यता लेंगे। इनमें शामिल गरीफा के वॉर्ड नंबर 6 की टीएमसी पार्षद रूबी चटर्जी ने दावा किया कि उनके साथ 19 अन्य पार्षद भी दिल्ली में हैं। उन्होंने कहा, ‘दिल्ली में 20 पार्षद आए हुए हैं। हम ममताजी से नाराज नहीं हैं लेकिन बंगाल में बीजेपी की हालिया जीत से प्रभावित होकर हम पार्टी में शामिल हो रहे हैं। लोग बीजेपी को पसंद कर रहे हैं और उसके लिए काम कर रहे हैं।’

मुकुल रॉय के घर 2 दिनों से TMC नेताओं की बढ़ी दस्तक
कांचरापारा, नैहाटी, हलीसह, भाटपारा, गरुलिया और नॉर्थ बैरकपुर के कई टीएमसी पार्षद पिछले 2 दिनों से मुकुल रॉय के घाटकपारा स्थित घर पर दस्तक दे रहे हैं और बीजेपी में शामिल होने की इच्छा जता रहे हैं। इनमें वे 22 टीएमसी पार्षद भी शामिल हैं जिन्होंने 8 अप्रैल को भाटपारा म्यूनिसपैलिटी के तत्कालीन चेयरमैन अर्जुन सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के खिलाफ वोट दिया था। हालांकि, बीजेपी का दावा है कि टीएमसी के कम से कम 55 पार्षद उसके संपर्क में हैं।

मुकुल रॉय के घाटकपारा घर का नजारा 2017 से एकदम उलट है, जब टीएमसी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने उनके घर पर काली पूजा कार्यक्रम से दूरी बना ली थी लेकिन लोकसभा चुनाव में बीजेपी के शानदार प्रदर्शन ने सूरत बदल दी है। अब रॉय के घर मजमा लगा हुआ है और टीएमसी के कई नेता और कार्यकर्ता उनसे बीजेपी में शामिल होने के लिए संपर्क कर रहे हैं।
-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *