21 वर्ष की उम्र में मिले युवाओं को चुनाव लड़ने का अधिकार: वसीम

अलीगढ़ । युवाओं के मुद्दों और अधिकारों को लेकर राष्ट्रीय लोकदल का युवा प्रकोष्ठ मोदी सरकार के खिलाफ ताल ठोक रहा है । 12 फरवरी को नई दिल्ली के कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में युवा रालोद युवा अधिकार सम्मेलन आयोजित कर रहा है जिसमे विभिन्न दलों के नेता हिस्सा लेंगे और युवाओ के अधिकारों की आवाज़ बुलंद करेंगे ।
युवा रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष वसीम राजा ने गुरुवार को अलीगढ़ में नुमाईश स्थित रालोद के कैम्प में मीडिया से वार्ता की और अलीगढ़ के युवाओं से सम्मेलन में पहुंचने का आव्हान किया । वसीम राजा ने कहा कि मोदी सरकार ने युवाओं और छात्रों को बर्बाद कर दिया है, युवाओं को चुनाव के समय बड़े बड़े वायदे किये लेकिन सत्ता में आते ही धोखा दिया है, अब बेरोजगारी बढ़ रही है और रोजगार के अवसर कम हो रहे हैं । उन्होंने कहा कि युवाओं को वोट देने का अधिकार तो 18 वर्ष की उम्र में मिल जाता है लेकिन लोकसभा और विधानसभा  चुनाव के लिए 25 वर्ष उम्र निर्धारित है । उन्होंने कहा कि युवाओं को 21 वर्ष की उम्र में विधानसभा और लोकसभा चुनाव लड़ने का अधिकार मिलना चाहिए ।
वसीम राजा ने कहा कि भाजपा नफरत फैलाकर युवाओं को गुमराह कर रही है, धर्म जाति में उलझाकर शिक्षा और रोजगार के मुद्दों से भटकाना चाहती है लेकिन अब ऐसा नही होगा । उन्होंने कहा कि युवा जाग चुका है, पीएम मोदी से 5 साल का हिसाब लेगा । उन्होंने कहा कि 2019 में देश का नौजवान भाजपा का सफाया करेगा और युवा अधिकारों की बात करने वाली सरकार चुनेगा ।
उन्होंने कहा कि रालोद ने हमेशा युवाओं को नेतृत्व देकर आगे बढ़ाया है, रालोद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयन्त चौधरी जी युवा हितैषी हैं, उनको मजबूत करना हम सबकी जिम्मेदारी है ।
वसीम राजा ने कहा कि सम्मलेन में सभी विपक्षी दलों के नेताओं को निमंत्रण भेजा गया है ।
पत्रकार वार्ता में महानगर अध्यक्ष अनीस चौहान एडवोकेट, रालोद नेता जियाउर्रहमान एडवोकेट, मंडल अध्यक्ष डॉ इरफान, फूल सिंह धनगर एडवोकेट, साबिर मलिक, सलमान शेरवानी, मौ जाहिद एड, हामिद राव , संजीव चौधरी आदि मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »