KD हॉस्‍पिटल में Laparoscopic सर्जरी पर कार्यशाला का आयोजन

मथुरा। KD मेडिकल कॉलेज-हॉस्‍पिटल एंंड रिसर्च सेंटर में जनरल सर्जरी विभाग के डाॅ. आशुतोष सिंह के प्रयासों से Laparoscopic सर्जरी विषय पर दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का शुभारम्भ आर. के. एजुकेशन के चेयरमैन डाॅ. रामकिशोर अग्रवाल द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित करके किया गया। कार्यशाला में मथुरा ही नहीं, उत्तर प्रदेश के अन्य शहरों से भी चिकित्सकों ने सहभागिता की। कार्यशाला में विशेषज्ञ चिकित्सकों ने उपस्थित डाॅक्टरों को दूरबीन विधि से हार्निया, गॉल ब्लेडर, अपेंडिक्स के ऑपरेशनों का प्रसारण करते हुए विस्तार से जानकारी दी।

कार्यशाला के शुभारम्भ पर आर. के. एजुकेशन हब के चेयरमैन डा. रामकिशोर अग्रवाल ने कहा कि ऐसी कार्यशालाओं से चिकित्सकों के ज्ञान में वृद्धि होती है, जिसका सीधा फायदा मरीजों को होता है। ऐसी कार्यशालाएं हमेशा होती रहनी चाहिए ताकि चिकित्सकों की दक्षता बढ़े और मरीज लाभान्वित हों। इस अवसर पर डाॅ. अग्रवाल ने कहा कि हम डाक्टरों को शीघ्र ही तीन सौ सीटर एयरकंडीशनर ऑडिटोरियम की सौगात देंगे ताकि यहां नियमित रूप से नेशनल-इंटरनेशल कार्यशालाएं और सेमिनार आयोजित हो सकें। डाॅ. अग्रवाल ने इस कार्यशाला के लिए जनरल सर्जरी विभाग के डाॅ. आशुतोष सिंह के प्रयासों की मुक्तकंठ से सराहना की।

कार्यशाला का संचालन करते हुए डाॅ. सम्राट रे ने कहा कि Laparoscopic विधि से आपरेशन में मरीज का खून बहुत कम बहता है तथा उसे जल्दी आराम मिलता है। इस विधि में मरीज के शरीर में छोटे-छोटे छेदों से सर्जरी होती है। यह परंपरागत विधि से ज्यादा कारगर है। ऑपरेशन सत्र में डाॅ. आशुतोष सिंह और गैस्ट्रो सर्जन डाॅ. सम्राट रे ने हार्निया, गॉल ब्लेडर, अपेंडिक्स के लेप्रोस्कोपिक विधि से ऑपरेशन किए। कार्यशाला में जनरल सर्जरी विभाग प्रमुख डाॅ. रवि कुमार माथुर और निश्चेतना विभाग प्रमुख डाॅ. ए. पी. भल्ला ने भी अपने-अपने विचार व्यक्त किए। डाॅ. वरुण कुमार सिसोदिया ने कार्यशाला में सहभागिता करने वाले सभी डाक्टरों का आभार माना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »