World Cup के लिए 15 सदस्‍यीय भारतीय क्रिकेट टीम रवाना

मुंबई। क्रिकेट के महाकुंभ वनडे World Cup के लिए विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय क्रिकेट टीम मंगलवार देर रात इंग्लैंड के लिए रवाना हो गई।
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने टीम के रवाना होने से पहले खिलाड़ियों की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कीं। इनमें खिलाड़ी मुंबई एयरपोर्ट पर अपनी फ्लाइट के लिए इंतजार करते नजर आ रहे हैं।
इन तस्वीरों में कप्तान विराट कोहली, एमएस धोनी, शिखर धवन, मोहम्मद शमी, हार्दिक पंड्या, लोकेश राहुल, केदार जाधव समेत अन्य खिलाड़ी दिख रहे हैं।
बता दें कि World Cup की शुरुआत इंग्लैंड एंड वेल्स में 30 मई से होगी। क्रिकेट का यह महाकुंभ 14 जुलाई तक चलेगा।
इससे पहले कप्तान विराट कोहली ने कहा कि इस बार के World Cup का फॉर्मेट चुनौतीपूर्ण है और कोई भी टीम उलटफेर कर सकती है। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों ने आईपीएल से 50 ओवर के मुकाबले की अच्छी तैयारी की है।
कैप्टन विराट ने साथ ही उम्मीद जताई कि टीम इंडिया तीसरी बार वर्ल्ड कप जीत सकती है। भारत ने अब तक 2 बार (1983 में कपिल देव की कप्तानी में और 2011 में धोनी की कप्तानी में) वर्ल्ड कप जीता है।
वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया
विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), केदार जाधव, हार्दिक पंड्या, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, विजय शंकर, दिनेश कार्तिक, केएल राहुल, रविंद्र जडेजा।
फास्ट बॉलर्स पर ही होगा सफलता का दारोमदार
जानकार मान रहे हैं कि इंग्लिश कंडिशंस में भारतीय फास्ट बॉलर ही टीम इंडिया की सफलता की अहम कहानी लिखेंगे।
इस वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार के रूप में 3 फास्ट बॉलर्स को जगह मिली है, जबकि हार्दिक पंड्या और विजय शंकर जैसे ऑलराउंडर इस फास्ट बॉलिंग तिकड़ी को बॉलिंग में भी सपोर्ट देंगे।
भले ही यह माना जा रहा हो कि वर्ल्ड कप के दौरान इंग्लैंड का मौसम पहले की अपेक्षा अब काफी सूखा और गरम रहेगा इसलिए ऐसे में कलाइयों के स्पिनर्स की भूमिका यहां अहम होगी लेकिन जानकार मानते हैं कि भारत के पास सबसे बेहतरीन विविधता वाला पेस अटैक है, जिसके पास ऐसी परिस्थितियों में खुद को साबित करने की कुव्वत है।
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज और अब कोच बन चुके जेसन गिलस्पी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को दिए एक इंटरव्यू भारतीय पेस अटैक की जमकर तारीफ की। गिलेस्पी ने कहा, ‘मुझे लगता है कि भारतीय पेस अटैक बेहतर संतुलन में है। उनके हर गेंदबाज की अलग-अलग विशेषज्ञता है, तो वह इस वर्ल्ड कप में दूसरी टीमों के लिए जरूर चुनौती पेश करेंगे।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »