Barabanki: जहरीली शराब से 14 मौतें, 16 लोग की हालत गंभीर, केजीएमयू रेफर

बाराबंकी। यूपी के Barabanki जिले में के रामनगर थाना क्षेत्र के रानीगंज में जहरीली शराबकांड में मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है, अब तक 14 की मौत हो चुकी है जबकि कई गंभीर हालत में जिंदगी मौत से संघर्ष कर रहे हैं, सरकारी देशी शराब की दुकान से करीब तीस लोगों ने शराब खरीद कर पी थी।

Barabanki पुलिस ने शराब कांड में सेल्स मैन सुनील को गिरफ्तार कर लिया है। मामले की जांच के लिए आबकारी आयुक्त पी गुरू प्रसाद, ज्वाइंट कमिश्नर आबकारी हरिश्चंद्र और आई अयोध्या डॉ. संजीव कुमार जिले में पहुंच चुके हैं।

घटना पर यूपी के स्वास्थ्य मंत्री सिद्घार्थनाथ सिंह ने दुख जताया है। उन्होंने बताया कि 16 लोगों को केजीएमयू रेफर किया गया। बलरामपुर व लोहिया अस्पताल में भी मरीजों के लिए व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने जांच में किसी को भी न बख्शने का आदेश दिया है। अगर कहीं राजनीतिक दृष्टि से षडयंत्र किया गया है तो इसे भी देखा जाएगा।

मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये देने की घोषणा राज्य सरकार ने की है। वहीं, मामले की जांच के लिए कमिश्नर, आईजी अयोध्या और आयुक्त आबकारी विभाग की जांच समिति बनाई गई है। समिति अगले 48 घंटे में जांच रिपोर्ट देगी।

घटना की जानकारी मिलते ही Barabanki जिलाधिकारी उदयभानु त्रिपाठी, एसपी अजय साहनी अन्य अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंच कर मामले की जांच शुरु कर दी है। उधर एसपी ने प्रभारी निरीक्षक रामनगर, हल्का दारोगा और पांच सिपाहियों को निलंबित कर दिया है। सीओ और आबकारी विभाग के अधिकारियों को निलंबित करते के लिए संस्तुति की है।

उधर देशी शराब के ठेकेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। मृतकों में पिता व उसके तीन पुत्रों समेत एक ही परिवार के चार लोगों की मौत पर पूरे रानीगंज में कोहराम मचा हुआ है।

शराब पीने के कुछ ही देर बाद बिगड़ने लगी हालत

सोमवार रात रामनगर थाना क्षेत्र के रानीगंज स्थित सरकारी देशी शराब की दुकान से करीब तीस लोगों ने शराब खरीद कर पी थी। इसके कुछ ही देर बाद सभी की हालत बिगड़ने लगी। मुकेश की घर पर ही मौत हो गई। अन्य की हालत बिगड़ने पर उन्हें सीएचसी सूरतगंज, रामनगर और फतेहपुर में भर्ती कराया गया। इनमें से ग्यारह लोगों की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल भेजा गया है। जिसमें करीब दस लोगों की इलाज के दौरान मौत हो गई।

सोनू (25) पुत्र सुरेश, राजेश (35) पुत्र सालिकराम ग्राम अकोहरा, रमेश (35) पुत्र छोटेलाल, सोनू (25) पुत्र छोटेलाल , मुकेश (28) पुत्र छोटे लाल, छोटेलाल (60) पुत्र घूरु सभी निवासी रानीगंज, सूर्यभान पुत्र सूर्यबख्श ग्राम पिपरी महार, राजेंद्र वर्मा पुत्र जगमोहन निवासी उमरी, महेंद्र पुत्र कप्तान निवासी सेमरायं और ततहेरा निवासी महेंद्र पुत्र दलगंजन शामिल हैं।

मृतक छोटे लाल के पुत्र विकास ने बताया कि पिता और चाचा ने गांव स्थित शराब की दुकान से शराब खरीद कर पी थी। जिसमें मुकेश की घर पर ही कुछ देर बाद मौत हो गई। अन्य की हालत बिगड़नें पर उन्हें निकट के अस्पतालों में भर्ती कराया गया था।

जिले की सभी शराब की दुकानों की जांच शुरू

उधर घटना की जानकारी मिलते ही डीएम उदयभानु त्रिपाठी एसपी अजय साहनी समेत विभागीय अधिकारियों के साथ गांव पहुंच गए। और मामले की जांच शुरु कर दी। एसपी के आदेश पर ठेकेदार दानवीर सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। वहीं जिले की सभी शराब की दुकानों पर जांच शुरु कर दी गई है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *