12 नियम, जिन्‍हें अपनाने के लिए आयुर्वेद और विज्ञान भी कहता है

स्वस्थ बने रहने के लिए इंसान आज सब कुछ करने के लिए तैयार है क्योंकि कोरोना वायरस की महामारी ने लोगों को अपनी सेहत के प्रति सजग रहने के लिए काफी प्रोत्साहित किया है। इसे एक प्रकार का डर भी कह सकते हैं, लेकिन लोगों ने अपनी सेहत का खास ध्यान रखना शुरू किया है। यहां पर सेहतमंद बने रहने के लिए ऐसे ही 12 नियम के बारे में बताया जा रहे हैं जिसे अपनाने के लिए आयुर्वेद और विज्ञान भी कहता है।
स्वस्थ रहने के लिए इंसान तरह-तरह की बातों पर ध्यान जरूर देता है लेकिन कुछ ऐसी छोटी बातें भी होती हैं जिनको नजरअंदाज करना सेहत के लिए भारी नुकसानदायक साबित हो सकता है। ऐसे ही कुछ खास और बेहतरीन नियमों के बारे में आज यहां आपको बताया जाएगा, जो कि सेहतमंद बने रहने के लिए डॉक्टरों के द्वारा भी सुझाए जाते हैं।
यह ना केवल आपकी दिनचर्या में सुधार लाएंगे बल्कि कई प्रकार की गंभीर बीमारियों से भी आपको बचाए रख सकते हैं। इन 12 नियमों के बारे में आपको नीचे बिंदुवत रूप में बताया जा रहा है। इन्हें ध्यानपूर्वक पढ़िए और अपनी दिनचर्या में शामिल करने के लिए भरपूर प्रयास करिए।
रोज सुबह उठने के बाद आपको सबसे पहले एक से दो गिलास गुनगुना पानी पीना चाहिए। यह शरीर से टॉक्सिक पदार्थ को निकालने और पेट को साफ करने के लिए बहुत जरूरी होता है।
सुबह नाश्ते में कुछ खाने के बाद ही आपको चाय पीनी चाहिए, नहीं तो यह सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकती है।
कब्ज से पीड़ित लोगों को शाम के समय पपीते का सेवन जरूर करना चाहिए। इसके अलावा फाइबर युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करके भी कब्ज से राहत पाई जा सकती है।
दांतों की अच्छी देखभाल के लिए रात को सोने से पहले दांत साफ करें और उसके बाद एक गिलास पानी पीकर ही सोएं।
खाना खाने के दौरान कभी भी पानी ना पिएं। इससे पाचन क्रिया पर भी विपरीत प्रभाव पड़ता है और आप भरपेट खाना भी नहीं खा सकते हैं। खाना खाने के हमेशा आधे घंटे बाद ही पानी पिएं।
रात में सोते समय अपने आसपास मोबाइल फोन ना रखें। इसमें कनेक्ट होने वाली रेडियो एक्टिव किरणें आपके दिमाग को सोते समय नुकसान पहुंचा सकती हैं।
प्रतिदिन एक्सरसाइज या फिर योग का अभ्यास जरूर करें। यह आपको कई गंभीर बीमारियों के खतरे से बचाए रखेगा।
फोन से बात करते वक्त कॉल का जवाब हमेशा बाएं कान से दें। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार बाएं कान से फोन का जवाब देने के कारण फ्रीक्वेंसी बेहतरीन रहती है और रेडियो एक्टिव किरणों का प्रभाव भी बहुत कम हो जाता है।
खाना खाने के बाद सौंफ या फिर थोड़ा सा गुड़ जरूर खाएं। इससे पाचन क्रिया भी अच्छी होती है।
आयुर्वेद के अनुसार रात के समय दही का सेवन करने से बचना चाहिए। यह म्यूकस के डेवलप होने की संभावना को बढ़ा देता है।
अक्षय कुमार की फिटनेस के बारे में तो आप सभी लोग जानते ही होंगे। वह शाम को 6:00 बजे के बाद खाना नहीं खाते हैं इसलिए आपको भी कोशिश करनी चाहिए कि शाम 6:00 बजे के बाद हैवी डायट न लें।
फ्रिज में रखे हुए ठंडे पानी का सेवन करने से बचना चाहिए। यह न केवल गले के लिए हानिकारक होता है बल्कि आपकी सेहत को भी कई नुकसान पहुंचा सकता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *