रायबरेली की रैली में अमित शाह बोले, अब तक इस जिले ने सिर्फ परिवारवाद देखा है लेकिन विकास नहीं

रायबरेली। कांग्रेस का गढ़ कहे जाने वाले रायबरेली में अमित शाह ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि अब तक इस जिले ने सिर्फ परिवारवाद देखा है, लेकिन विकास नहीं देखा है।
‘भगवा आतंकवाद’ जैसे कांग्रेस के बयानों पर हमला बोलते हुए शाह ने कहा कि मक्का मस्जिद मामले में आपके किए पर पानी फिर गया है। अब आप लोगों को माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने वोटबैंक मजबूत करने के लिए हिंदू संस्कृति को बदनाम करने का काम किया है। जनता से सवालिया अंदाज में शाह ने कहा, ‘कांग्रेस को हिंदू आतंकवाद का झूठ फैलाने के लिए माफी मांगनी चाहिए या नहीं।’ उन्होंने कहा कि 4 दिन हो गए हैं लेकिन वोटबैंक की राजनीति के चलते वह माफी भी नहीं मांग रहे हैं।
सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र में शाह ने कहा कि हम रायबरेली को परिवारवाद से मुक्त कराएंगे, यह अभियान आज से ही हम शुरू करने वाले हैं। उन्होंने कहा कि यूपी में कांग्रेस का लगातार दशकों तक शासन रहा और फिर एसपी और बीएसपी ने राज किया लेकिन देश के अग्रणी राज्यों में से एक यह प्रदेश लगातार पिछड़ता गया।
शाह ने कहा, ‘रायबरेली समेत यूपी के तमाम गांव ऐसे थे जो अंधेरे में जीते थे लेकिन 2014 में पीएम मोदी ने सरकार आने के बाद सबको बिजली देने का काम शुरू किया। इसके बाद 2017 में प्रदेश की महान जनता ने एक और जिम्मेदारी हमें दी और अपनी सेवा का मौका दिया।’
प्रदेश की योगी सरकार की पीठ थपथपाते हुए शाह ने कहा, ‘पहले यूपी देश भर में गुंडई और खराब कानून-व्यवस्था के लिए जाना जाता था लेकिन योगी सरकार बनने के साथ ही अपराधी और गुंडे पलायन कर गए।’
उन्होंने कहा कि बीते 15 साल से यूपी का किसान अपना गेहूं, धान और गन्ना लेकर घूमता था, बीजेपी सरकार बनते ही यह समस्या हल की गई। यूपी सरकार ने किसानों से उनका न्यूनतम समर्थन मूल्य पर लेना शुरू किया।
गांधी फैमिली के करीबी MLC दिनेश सिंह आए बीजेपी में
रैली से पहले कांग्रेस के एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह ने अपने परिवार समेत बीजेपी का दामन थाम लिया। इस परिवार को गांधी परिवार का करीबी माना जाता रहा है लेकिन जिले के पूर्व विधायक अखिलेश सिंह के कांग्रेस में शामिल होने के बाद से यह परिवार नाराज चल रहा था। दिनेश सिंह का घर ‘पंचवटी’ जिले में कांग्रेस का केंद्र कहा जाता था लेकिन अखिलेश सिंह से उनका हमेशा 36 का आंकड़ा रहा है। विधानसभा चुनाव से पहले अखिलेश एक बार फिर कांग्रेस में आ गए थे और तब से ही पंचवटी परिवार विकल्प की तलाश में दिख रहा था।
योगी बोले, जुलाई से शुरू होगी एम्स की ओपीडी
अमित शाह से पहले सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिले में बने एम्स में जुलाई से ओपीडी चालू कराने का वादा किया। उन्होंने कहा कि जल्दी ही हम रेल कोच फैक्ट्री भी चालू कराएंगे। योगी ने कहा कि हम लोग अब तक जो भी कमी कहीं से भी रह गई होगी, उसे हम पूरा करेंगे। दिनेश प्रताप सिंह और हमारे सभी विधायक और एमएलसी मिलकर रायबरेली को पिछड़ने नहीं देंगे। विकास के रास्ते में रायबरेली पिछड़ नहीं सकेगा।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »