नागपुर टेस्ट: मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा की बदौलत भारत मजबूत

नागपुर। मुरली विजय (128) और चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 121) के शतकों और कप्तान विराट कोहली की हाफ सेंचुरी की बदौलत भारत ने नागपुर टेस्ट के दूसरे दिन अपनी पकड़ मजबूत कर ली है। शनिवार को भारत का दिन का खेल खत्म होने तक दो विकेट के नुकसान पर 312 रन बना लिए थे। भारत ने श्री लंका के 205 रनों पर 107 रनों की बढ़त बना ली है।
अपने पहले दिन के स्कोर 11 रनों पर एक विकेट से आगे खेलने उतरी भारतीय टीम ने पहले सत्र की समाप्ति तक बिना कोई विकेट गंवाए मुरली और पुजारा की शानदार साझेदारी से 97 रन बना लिए थे। इसके बाद दूसरे सत्र में भी मुरली और पुजारा ने पिच पर अपने पैर जमाए रखा और श्री लंका के गेंदबाजों को छकाते हुए 178 रनों की साझेदारी कर मेजबान टीम को दूसरे सत्र की समाप्ति तक 185 के स्कोर तक पहुंचाया।
पिछले छह टेस्ट मैचों में पुजारा और मुरली के बीच हुई यह 5वीं शतकीय साझेदारी है। मुरली ने 8 माह बाद टेस्ट क्रिकेट में वापसी की है और वापसी के साथ ही उन्होंने शतक लगाया है। मुरली ने अब तक 194 गेंदों का साना कर नौ चौके और एक छक्का लगाया है। यह उनके टेस्ट करियर का 10वां शतक है। इसके अलावा, पुजारा ने 183 गेंदों का सामना करते हुए 9 चौके लगाए।
भारतीय टीम ने अपने शानदार गेंदबाजों के दम पर शुक्रवार को श्री लंका की पारी 205 रनों पर ही समाप्त कर दी। इसके बाद अपनी पहली पारी की शुरुआत करने उतरी भारत ने दिन का खेल समाप्त होने तक 11 रन बनाए। टीम ने लोकेश राहुल (7) के रूप में अपना एकमात्र विकेट गंवाया।
उल्लेखनीय है कि दोनों टीमों के बीच कोलकाता में खेला गया पहला टेस्ट मैच ड्रॉ हुआ था।
-एजेंसी